Share This Book

रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan Download Free PDF

पुस्तक का विवरण (Description of Book) :-

नाम / Nameरवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan
लेखक / Author
आकार / Size2.8 MB
कुल पृष्ठ / Pages105
Last UpdatedFebruary 24, 2022
भाषा / Language Hindi
श्रेणी / Category
Download रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan PDF Book Free,रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan PDF Book Download kare Hindi me , रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan Kitab padhe online , Read Online रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan Book Free, रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan किताब डाउनलोड करें , रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan Book review, रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan Review in Hindi , रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan PDF Download in English Book, Download PDF Books of   रवींद्रनाथ टैगोर / RAVINDRA NATH TAGORE   Free,   रवींद्रनाथ टैगोर / RAVINDRA NATH TAGORE   ki रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan PDF Book Download Kare, रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan Novel PDF Download Free, रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan उपन्यास PDF Download Free, रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan Novel in Hindi, रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan PDF Google Drive Link, रवींद्रनाथ टैगोर की लोकप्रिय कहानियाँ / Ravindra Nath Tagore Ki Lokpriya Kahaniyan Book Telegram

Download

पुलिस ने आकर जोरों से तहकीकात करनी शुरू कर दी।

आस-पास के लगभग सभी लोगों के मन में यह बात घर कर गई थी कि चंदा ने ही जिठानी की हत्या की है। सभी गाँववालों के बयानों से ऐसा ही सिद्ध हुआ। पुलिस की ओर से चंदा से जब पूछा गया तो उसने कहा, ‘‘हाँ, मैंने ही खून किया है।

’’ ‘‘क्यों खून किया?’’ ‘‘मुझसे वह डाह रखती थी।’’ ‘‘कोई झगड़ा हुआ था?’’ ‘‘नहीं।’’ ‘‘वह तुम्हें पहले मारने आई थी?’’ ‘‘नहीं।’’ ‘‘तुम पर किसी किस्म का अत्याचार किया था?’’ ‘‘नहीं।’’ इस प्रकार का उत्तर सुनकर सब देखते रह गए। छदामी एकदम घबरा गया। बोला, ‘‘यह ठीक नहीं कह रही है।

पहले बड़ी बहू’’ -इसी पुस्तक से नोबेल पुरस्कार विजेता, विश्‍व-प्रसिद्ध साहित्यकार गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर की कहानियों से चुनी नई श्रेष्‍ठ कहानियों का संग्रह। आशा है, पाठक इन कहानियों के माध्यम से गुरुदेव के कहानीकार रूप का दिग्दर्शन कर सकेंगे।.

अनुक्रम

  • संपादकीय
  • अंतिम प्यार
  • गूँगी
  • प्रेम का मूल्य
  • भिखारिन
  • नई रोशनी
  • काबुलीवाला
  • भाई-भाई
  • कंचन
  • उद्धार
  • धन की भेंट
  • खोया हुआ मोती
  • कंकाल
  • दीदी
  • पत्नी का पत्र
हमारे Telegram चैनल से जुड़े। To Get Latest Notification!

Related Books

Shares