कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se PDF Download Book by Manav Kaul

कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se PDF Download Free in this Post from Google Drive Link and Telegram Link , मानव कौल / Manav Kaul all Hindi PDF Books Download Free, कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se Summary, कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se book Review , Manav Kaul Written Books Theek Tumhare Peeche Pdf, Prem Kabootar Pdf, Tumhare Baare Mein Pdf, Bahut Door Kitna Door Hota Hain Pdf, Chalta Phirta Pret Pdf, Antima Pdf, Shirt Ka Teesra Button Pdf Also Available for download.

पुस्तक का विवरण (Description of Book कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se PDF Download) :-

नाम : कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se Book PDF Download
लेखक :
आकार : 2.1 MB
कुल पृष्ठ : 126
श्रेणी : काव्य / Poetry
भाषा : हिंदी | Hindi
Download Link Working

[adinserter block=”2.1″]

हम जितने होते हैं वो हमें हमसे कहीं ज़्यादा दिखाती है। कभी एक गुथे पड़े जीवन को कलात्मक कर देती है तो कभी उसके कारण हमें डामर की सड़क के नीचे पगडंडियों का धड़कना सुनाई देने लगता है। वह कविता ही है जो छल को जीवन में पिरोती है और हमें पहली बार अपने ही भीतर बैठा वह व्यक्ति नज़र आता है जो समय और जगह से परे, किसी समानांतर चले आ रहे संसार का हिस्सा है। कविता वो पुल बन जाती है जिसमें हम बहुत आराम से दोनों संसार में विचरण करने लगते हैं। हमें अपनी ही दृष्टि पर यक़ीन नहीं होता, हम अपने ही नीरस संसार को अब इतने अलग और सूक्ष्म तरीक़े से देखने लगते हैं कि हर बात हमारा मनोरंजन करती नज़र आने लगती है। —मानव कौल[adinserter block=”2.1″]

It shows us more than we are as we are. Sometimes a knot makes life artistic and sometimes because of it we hear the beating of footpaths under the asphalt road. It is poetry that weaves the illusion into life and we see for the first time the man within us who is part of a parallel world beyond time and space. Poetry becomes that bridge in which we start roaming in both worlds very comfortably. We cannot believe our own vision, we start seeing our own dull world in such a different and subtle way that everything seems to entertain us. —Manav Kaul

कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se PDF Download Free in this Post from Telegram Link and Google Drive Link , मानव कौल / Manav Kaul all Hindi PDF Books Download Free, कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se PDF in Hindi, कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se Summary, कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se book Review

[adinserter block=”2.1″]

पुस्तक का कुछ अंश (कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se PDF Download)

कविता-क्रम

बादल
जिया जा चुका
पतंग
जूता
रेखाएँ
चिड़िया
टीस
चोरी से
नींद
खिड़की से आकाश
माँ
पिता
प्रकृति हमें अच्छी लगती है
भूख
धुँध
चुप
ये काफ़ी है
पुरखों का संयम
सपने में लेखक
क्या हम खेल रहे हैं?
आलू
मैं चोर हूँ
नाटक
कश्मीर
सही है
शून्य के बाद एक
ठोकरों से बदलता आदमी
चिड़िया और नदी
हिरन
छिपकली
कस्तूरी
दालचीनी की ख़ुशबू
आज, अभी
प्रेम
कोविड
तुम्हारे बिना
सूत भर की दूरी
वर्णांध
मैं हिंदू देश का मुसलमान
दुःख बाहर होता है[adinserter block=”2.1″]
लेखक की जगह
उड़ने के खंडहर
ठीक तुम्हारे पीछे
ख़ालीपन का नुक़्ता
दिन की चालाकी
आश्चर्य
दूसरे का लिखा
नदी होने तक
संभावनाओं के चाँद
बैठे हुए लेटने का ज्ञान
इंतज़ार
हँसना-मुस्कुराना
हमारा मनोरंजन
दहलीज़ पार
माँ की पुरानी साड़ी
छूटी हुई जगह
बची हुई टेक
हमारे बीच का
पर जंग कभी हुई नहीं
पानी
भाग्य-रेखा
अबाबील (कहानी का मिलना)
यात्रा की शुरुआत
अतीत की कीचड़
पढ़ना
मानव
सूटकेस
गोदो
मृत्यु
करच-करच, खरच-खरच
झूठे वाक्य
खंडित
बल
अक्स
रात
ब्लैकबोर्ड
शुरुआत
अकेलापन
दर्शक
श्रम
दंगों के हम
कत्थई फूल
विश्वासघात
शेष वरदान है
समुद्र
लंबी यात्रा का छलावा
साया
दरवाज़े
घर के अवशेष
साँस
एक पल
तुम्हारी उँगलियाँ
शक्कर के पाँच दाने
भूख का संगीत
रूह
तू
अंतिमा का दिख जाना

बादल
जब खाना खाने के बाद तुम
थाली में अपनी उँगलियों से चित्र बनाती हो
पता नहीं क्यों मैं उस वक़्त
बादलों के बारे में सोचता हूँ
उस समय एक चुप्पी रहती है
अजीब-सी लंबी
बहुत लंबी चुप्पी।

कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se PDF Download Free in this Post from Telegram Link and Google Drive Link , मानव कौल / Manav Kaul all Hindi PDF Books Download Free, कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se PDF in Hindi, कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se Book Summary, कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se book Review

[adinserter block=”2.1″]

हमने कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se PDF Book Free में डाउनलोड करने के लिए Google Drive की link नीचे दिया है , जहाँ से आप आसानी से PDF अपने मोबाइल और कंप्यूटर में Save कर सकते है। इस क़िताब का साइज 2.1 MB है और कुल पेजों की संख्या 126 है। इस PDF की भाषा हिंदी है। इस पुस्तक के लेखक मानव कौल / Manav Kaul हैं। यह बिलकुल मुफ्त है और आपको इसे डाउनलोड करने के लिए कोई भी चार्ज नहीं देना होगा। यह किताब PDF में अच्छी quality में है जिससे आपको पढ़ने में कोई दिक्कत नहीं आएगी। आशा करते है कि आपको हमारी यह कोशिश पसंद आएगी और आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se की PDF को जरूर शेयर करेंगे।

Q. कर्ता ने कर्म से । Karta Ne Karm Se किताब के लेखक कौन है?
 

Answer.
[adinserter block=”2.1″]

Download
[adinserter block=”2.1″]

Read Online
[adinserter block=”2.1″]

 


आप इस किताब को 5 Stars में कितने Star देंगे? कृपया नीचे Rating देकर अपनी पसंद/नापसंदगी ज़ाहिर करें। साथ ही कमेंट करके जरूर बताएँ कि आपको यह किताब कैसी लगी?

4.8/5 - (2190 votes)

Leave a Comment