गणेश शंकर विद्यार्थी / Ganesh Shankar Vidyarthi Jiwani PDF Download Free Hindi Book

पुस्तक का विवरण (Description of Book of गणेश शंकर विद्यार्थी / Ganesh Shankar Vidyarthi PDF Download) :-

नाम 📖गणेश शंकर विद्यार्थी / Ganesh Shankar Vidyarthi PDF Download
लेखक 🖊️   श्री देवव्रत / Shri Devavrat  
आकार 31 MB
कुल पृष्ठ269
भाषाHindi
श्रेणी
Download Link 📥Working

गणेशशंकर विद्यार्थी एक निडर और निष्पक्ष पत्रकार तो थे ही, एक समाज-सेवी, स्वतंत्रता सेनानी और कुशल राजनीतिज्ञ भी थे। स्वाधीनता-संग्राम में उनका महत्त्वपूर्ण योगदान रहा।
गणेशशंकर का जन्म 6 नवंबर, 1890 को इलाहाबाद के अतरसुइया मुहल्ले में स्थित उनके ननिहाल में हुआ था। उनके पिता मुंशी जयनारायण लाल श्रीवास्तव फतेहपुर (उ.प्र.) के निवासी थे। उस समय वह ग्वालियर (मध्य प्रदेश) रियासत में गुना जनपद के मुँगावली कस्बे में एंग्लो वर्नाक्यूलर स्कूल में प्रधानाध्यापक के रूप में कार्यरत थे। उनकी माता गोमती देवी अत्यंत धार्मिक विचारोंवाली महिला थीं।
विद्यार्थी जी बहुतों के श्रद्धामाजन, और अनेकों के माननीय तथा आदरास्पद नेता थे, परन्तु उनके बलिदान ने उन्हें न जाने और कितनों का उपास्यदेव बना लिया । लोग महापुरुषों के जीवन चरित्र से बहुत प्रभावित होते हैं । साहित्य में महात्माओं को जीवनियों का स्थान बड़ा ऊँचा है, यही जान कर लेखक ने मानवता के डस पुजारी की जीवन-गाथा इस पुस्तक में कहने का प्रयत्न किया…….

हमने गणेश शंकर विद्यार्थी / Ganesh Shankar Vidyarthi PDF Book Free में डाउनलोड करने के लिए लिंक नीचे दिया है , जहाँ से आप आसानी से PDF अपने मोबाइल और कंप्यूटर में Save कर सकते है। इस क़िताब का साइज 31 MB है और कुल पेजों की संख्या 269 है। इस PDF की भाषा हिंदी है। इस पुस्तक के लेखक   श्री देवव्रत / Shri Devavrat   हैं। यह बिलकुल मुफ्त है और आपको इसे डाउनलोड करने के लिए कोई भी चार्ज नहीं देना होगा। यह किताब PDF में अच्छी quality में है जिससे आपको पढ़ने में कोई दिक्कत नहीं आएगी। आशा करते है कि आपको हमारी यह कोशिश पसंद आएगी और आप अपने परिवार और दोस्तों के साथ गणेश शंकर विद्यार्थी / Ganesh Shankar Vidyarthi को जरूर शेयर करेंगे। धन्यवाद।।
Q. गणेश शंकर विद्यार्थी / Ganesh Shankar Vidyarthi किताब के लेखक कौन है?
Answer.   श्री देवव्रत / Shri Devavrat  
Download

_____________________________________________________________________________________________
आप इस किताब को 5 Stars में कितने Star देंगे? कृपया नीचे Rating देकर अपनी पसंद/नापसंदगी ज़ाहिर करें।साथ ही कमेंट करके जरूर बताएँ कि आपको यह किताब कैसी लगी?
Buy Book from Amazon
5/5 - (21 votes)

Leave a Comment